Manohar Parrikar Biography In Hindi – मनोहर पर्रिकर की जीवनी

नमस्कार मित्रो आज के हमारे लेख में आपका स्वागत है आज हम manohar parrikar Biography In Hindi बताने वाले है , goa cm मनोहर गोपालकृष्ण पारिकर के जीवन परिचय से परिचित करवाते है। 

गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री , आरएसएस के सदस्य और बीजेपी के राजनेता थे मनोहर पर्रीकर का पूर्ण नाम ‘मनोहर गोपालकृष्‍ण प्रभु पर्रीकर’ था। आज manohar parrikar death reason , manohar parrikar son और manohar parrikar wife से संबंधत सभी बाते बताई जाएगी। उनका जन्म 1955 के दिसंबर माह की 13 तारीख को गोवा के मापुसा शहर में हुआ था उन्होंने अपने पाठशाला की शिक्षा मारगाव की स्कूल से पूर्ण की हुई है। 

मनोहर पर्रिकर ने अपना उच्च अभ्यास आई.आई.टी. बॉम्बे से इंजीनियरिंग एवं 1978 में ग्रेजुएशन की शिक्षा पूरी की थी , पर्रिकर के दो संताने है ,उनका नाम अभिजीत और उत्पल हैं। अभिजीत गोवाराज्य में ही खुद का बिजनेस करते हैं और दूजे बेटे उत्पल ने अमरीका से इंजीनियरिंग डिग्री की हुई है । मनोहर पर्रीकर की जीवन संगिनी medha parrikar हालही में इस दुनिया में नहीं रहे ,  2001 की साल में उनकी पत्नी का कैंसर रोग के कारन देहांत हो गया था। 

नाम

मनोहर गोपालकृष्‍ण प्रभु पर्रीकर 

जन्म

13, दिसंबर, 1955

जन्मस्थान

मापुसा, गोवा, भारत

पिता

गोपालकृष्ण पारिकर 

माता

राधाबाई पर्रिकर

मनोहर की पत्नी का नाम

स्वर्गीय मेधा पर्रिकर

 

मनोहर के बेटे का नाम 

अभिजीत पर्रिकर, उत्पल पर्रिकर

शिक्षा

बी.टेक (MET) आई.आई.टी. में शिक्षित बंबई

पेशा

राजनीतिज्ञ

पोलिटिकल पार्टी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)

मृत्यु

17 मार्च, 2019

मृत्यु स्थान

पणजी, गोवा ,भारत

Manohar Parrikar Biography In Hindi –

manohar parikar scooter से अपने दफ्तर जाया करते थे और रोड की साइड पे फुटपाथ पर चाय पिया करते थे सभी जगह काम करने के लिए लाइन में खड़े रह कर अपना काम करवाते कई जगह नजर आते थे। यही सादगी ही मनोहरजी की एक अनोखी पहचान हुआ करती थी। manohar parrikar death के पश्यात पूरा भारत देश दुःख में डूबा था।

पूरा गोवा राज्य रुक गया सा दिख रहा था हर लोग की आंख में नमी सी छा गई थी। आँखो में नमी के साथ पब्लिक सोशल मीडिया के जरिये अंतिम विदाई देते थकते नहीं थे । ट्वीटर फेसबुक और व्हाटअप पर लोग। मनोहर पर्रीकर की बाल्यावस्था के फोटो वायरल करते थे। इन वायरल फोटो में पर्रिकरजी उसके पत्नी के संग दिखाई दे रहे थे इन फोटो मे पर्रिकर अपनी पत्नी के साथ और उनके कंधे पर हाथ रखे खड़े थे।

इसे भी पढ़े :- Sadhana Shivdasani Biography in Hindi 

गोवा के c .m  मनोहर पारिकर –

गोवा के सी एम श्री मनोहर parikkar गोवा के एक नहीं बल्कि चार बार मुख्यमंत्री बने थे शरुआती वक्त में 2000 से 2002 के समय तक, दूजा 2002 से 2005 समय तक तीसरी समय 2012 से 2014 एवं लास्ट और चौथे वक्त 2017 के मार्च माह की14 तारीक से मरते दम तक वह गोवा राज्य के मुख्यमंत्री रहे। 2017 की साल में जब भाजपा गोवा की विधानसभा के चुनाव में जित और बहुमत से बहोत दूर थी, तब दूसरी पार्टिओ ने सीर्फ मनोहर parikkar को ही सीएम बनने की शरत पर ही अपना समर्थन बीजेपी को दिया था।

पर्रिकर ढाई साल के समय तक भारत देश के रक्षा मंत्री रहे थे। , पर्रिकर बाल्यकाल से ही आरएसएस संघ में जुड़े थे। manohar parrikar age 26 साल की में वे उनके गांव में शाखा प्रमुख बने थे। पहला सामान्य चुनाव 1991 में लड़े थे पर हार का सामना करना पड़ा था 1994 गोवा के विधानसभा के चुनाव में वह फिरसे पहला चुनाव जीते थे। 1999 के जून माह में वह नेता प्रतिपक्ष बने थे। b j p पार्टी से गोआ राज्य के मुख्यमंत्री की कुर्सी का पद पाने वाले वह पहले राज नेता हैं।

1994 में उन्हें गोआ राज्य की दूजी व्यवस्थापिका के लिये चुने गये थे। जून 1999 से नवम्बर 1999 के वक्त तक परिकारजी विरोध पार्टी केराज नेता रहे। 2000 के अक्टूबर् माह की 24 तारीख को वे गोआ राज्य के मुख्यमन्त्री पद पर बैठे लेकिन ये सरकार 2002 के फरवरी की 27 तारीख तक ही चल पाई थी। जून 2002 में पर्रिकर मनोहर फिर से सभा के सदस्य बनचुके और 5 जून 2002 के दिन फिरसे गोआ राज्य के मुख्यमन्त्री की शीट के लिये पसंदित हुए थे ।

मनोहर पारिकर का अभ्यास –

मुख्यमंत्री श्री मनोहर पर्रिकर का जन्म गोवा राज्य के मापुसा मेंजन्मे थे उनही का अभ्यास लोयोला हाई स्कूल, मार्गो से प्राप्त की थी मनोहर पर्रीकर ने माध्यमिक अभ्यास मराठी में पूरी कीथी एव 1978 में भारतीय प्रतियोगिता संस्थान, बोम्बे से धातुकर्म से इंजीनियरिंग डिग्री में बीटेक की पदवी प्राप्त की। मनोहर परिकर iit के पहले पूर्वछात्र थे, भारतीय राज्य गोवा से विधायक के रूप से सेवा की थी । उनको 2001की साल में में पूर्व छात्र पुरस्कार सम्मान गयाथा।

मनोहर पारिकर का परिवार – (Manohar Parikar Family)

parikar manohar के परिवार में मॉ का नाम राधाबाई और पिता का नाम गोपाल कृष्ण पर्रिकर था. 1981 में मेघा पर्रिकर से मनोहर की शादी हुई थी उनके दो बच्चे थे पहले अभिजीत पर्रिकर दूसरे उत्पल पर्रिकर हैं। उनके दोनो ही पुत्र राजनीती से दूर हैं उत्पल पर्रिकर इंजीनियर है और अभिजीत एक बड़े बिजनेसमैन के रूप से कार्यरत हैं. इनही के एक भाई भी हैं जो अवधूत पर्रिकर के नाम थे। 

इसे भी पढ़े :- Ram Singh Kuka Biography In Hindi 

गोवा मुख्यमंत्री शपथ –

13 मार्च 2017 के दिन को बीजेपी नेता manohar parikkar ने गोवा राज्य के मुख्यमंत्री पद के लिए शपथ ग्रहण की थी। राजभवन के समारोह आयोजित में राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने गोपनीयता और पद की शपथ ग्रहण करवाई थी। उन्होंने गोवा में नन्हे दलों और दूसरे विधायकों की सहायता से बीजेपी की सरकार रचाई थी और चौथी बार ग्रहण करने वाले गोवा के मुख्यमंत्री बने थे। 

गोआ में bjp को शासन सत्ता में लाने की सबसे ज्यादा महत्व जो पर्रिकर को ही जाता है इसके अतिरिक्त अंतरास्ट्रीय भारतीय फिल्म महोत्सव को उन्होंने अकेले हाथ से गोआ में लाने और किसी भी पार्टी या सरकार से बहुत कम वक्त मे एक अंतर्राष्ट्रीय संरचना बना के उन्हें मजबूत स्थिति में खड़ी करने का जिम्मा भी उन्हों ने ही लिया था। 

मनोहर पारिकर के नाम पर भारतीय संस्था –

भारत देश की केंद्र सरकार ने पूर्व रक्षा मंत्री श्री manohar parikar की विरासत और प्रतिबद्धता के सम्मान हेतु विश्लेषण संस्थानऔर सरकारी थिंक टैंक रक्षा अध्ययन का नाम बदलाव कर के manohar parikar रक्षा अध्ययन एवं विश्लेषण संस्थान रखा है पूर्व रक्षामंत्री इन भारत सरकार उरी और पठानकोट और उरी जैसे बड़े आतंकी हमलों के कठिन चुनौतीयो के दौरे में किया पार्रिकरने नेतृत्व था तब ही रक्षामंत्री श्री मनोहर पर्रीकर थे

उन्होंने पठानकोट एवं उरी जैसे आतंकी हमले के समय में एक सरकारी बयान द्वारा उसमे कहा था की देश की ख़राब समय पर आतंकी हमले और कठिन चुनौती के दौरान साहसऔर सही विचारो के साथ उनका जबरदस्त करारा जवाब दिया है। इस बयान में कहा था की ‘‘उनके पूरे जीवनकाल के दौरान पूराजीवन में समर्पण और ईमानदारी के प्रतीक रहे हे श्री manohar parikar ने तत्काल रिज़ल्ट की लेने के विचार सरणी और बड़ी निर्भीकता से ख़राब परीस्थितियों में टक्कर दे करके इट का जवाब पत्थर से दिया था। 

इसे भी पढ़े :- Shyamji Krishna Verma Biography Hindi

मनोहर पारिकर की समाजीक सुधार योजना –

श्री manohar parikkar ने समाज सुधर करने हेतु के लिए कई योजनाए देदिहे सामाजिक सुधार योजनाओं जैसे की सी.एम. रोजगार योजना मुख्य मंत्री का प्रमुख योगदान रहा था वृद्ध नागरिकों को आर्थिक रूप से सहायता और दूसरी दयानन्द सामाजिक सुरक्षा योजना और साइबरएज योजना, के प्रदाता कहलाये जाते हेउन्हें जाने माने बहुत प्रतिष्ठित व्यक्ति आर.सी सिन्हा और डॉ॰ अनुपम सराफ को राज्य सरकार के सलाहकार के रूप में शामिल करने का जिम्मा भी मुख्यमंत्री को ही जाता है। 

इण्डिया टुडे और प्लानिंग कमीशन ऑफ इन्डिया के जरिये किया गया हुआ सर्वे के प्रमाणित उनके शासन काल में गोआ सतत विकसित राज्यों में तीन साल के समय तक पुरे भारत में सर्वश्रेष्ठ राज्य हुआ करता था सिंद्धांतवादी तथा कार्यशील मुक्यमंत्री श्री पारिकर गोआ राज्य उनके दूसरे नाम मि. क्लीन से प्रचलित थे। 

मनोहर पारिकर की मृत्यु कब हुई –

मुख्यमंत्री श्री Death of manohar parikar 63 साल की उम्र में देहांत हो गया है मनोहर पर्रिकर की मौत का कारण वे अग्नाशय के कैंसर की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति थे उनके देहांत पर भारतीय केंद्र सरकार ने 18 मार्च को शोक दिखाके उनको राजकीय मन सन्मान के साथ ही रक्षा मंत्री का अंतिम संस्‍कार करने को बताया था।

29 जनवरी 2005 को 4 बी.जे.पी राज़ नेताओं के पद छोड़ देने के ही कारण बीजेपी सरकार अल्पमत में आ गयी थी । पूर्व मुख्यमंत्री श्री manohar parikar cm ने ऐसा दावा जाहिर किया था की वे बीजेपी सर्कार की बहुमत को साबित करदेंगे और 2005 के फरवरी माह में ऐसा कर के भी दिखा दिया लेकिन थोड़े वक्त के पश्यात किसी वजह से उन्हें मुख्यमंत्री के पद को खोना पड़ाथा।

हररोज़ के विवादो के बाद में 2005 के मार्च में गोआ बीजेपी शासन में राष्ट्रपति का शासन को चालू किया था लेकिन जून 2005 में विरोधी पार्टी के राजनेता राणे प्रतापसिंह को गोआ के मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण करवा के सी एम बना दिये गये।

2019 मार्च की 17 तारिक को मुख्यमंत्री कार्यालय से जाहिर किये गई सूचना से उनकाmanohar parikar health issue ज्यादा खराब हुइ बताई जाती थी लेकिन कुछ ही वक्त के पश्यात ही राष्ट्रपति के कार्यालय से ही पूर्व मुख्यमंत्री श्री मनोहर पर्रिकार की मृत्यु पर सबकी संवेदना व्यक्त करने से इस महान बीजेपी राजनेता की मृत्यु हो गई थी। 

इसे भी पढ़े :- Mariyappan Thangavelu Biography In Hindi

Manohar Parrikar Instagram –

  • Posts – 28 
  • Followers – 88.8k
  • Following – 0

Manohar Parrikar Social Media Profile –

Facebook – https://www.facebook.com/manoharparrikar

Email Id – Not Available

WhatsApp Number – Not Available

Official Website – Not Available

Twitter – https://twitter.com/manoharparrikar?lang=en

Manohar Parrikar Lifestyle Video –

Interesting Facts –

  • मनोहर पर्रीकर का पूर्ण नाम ‘मनोहर गोपालकृष्‍ण प्रभु पर्रीकर’ था। उन्ही का जन्म 1955 के दिसंबर माह की 13 तारीख को गोवा के मापुसा शहर में हुआ था ।
  • मनोहर पर्रीकर की जीवन संगिनी मेधा हालही में इस दुनिया में नहीं रहे। 2001 की साल में उनकी पत्नी का कैंसर रोग के कारन देहांत हो गया। 
  • मनोहर पर्रिकर पहले स्कूटर से अपने दफ्तर जाया करते थे और रोड की साइड पे फुटपाथ पर चाय पिया करते थे सभी जगह काम करने के लिए लाइन में खड़े रह कर अपना काम करवाते कई जगह नजर आते थे। यही सादगी ही मनोहरजी की एक अनोखी पहचान हुआ करती थी।
  • मनोहर पर्रिकर पहला सामान्य चुनाव 1991 में लड़े थे पर हार का सामना करना पड़ा था 1994 गोवा के विधानसभा के चुनाव में वह फिरसे पहला चुनाव जीते थे।
  • मनोहर पर्रिकर का अभ्यास लोयोला हाई स्कूल, मार्गो से प्राप्त की थी मनोहर पर्रीकर ने माध्यमिक अभ्यास मराठी में पूरी कीथी एव 1978 में भारतीय प्रतियोगिता संस्थान, बोम्बे से धातुकर्म से इंजीनियरिंग डिग्री में बीटेक की पदवी प्राप्त कीहुई है। 
  • 13 मार्च 2017 के दिन को बीजेपी नेता मनोहर साहब ने गोवा राज्य के मुख्यमंत्री पद के लिए शपथ ग्रहण की थी। 

मनोहर पारिकर के प्रश्न –

1 . मनोहर पारिकर का जन्म कब और कहा हुवा था ?

मनोहर पारिकर का जन्म 1955 के दिसंबर माह की 13 तारीख को गोवा राज्य के मापुसा शहर में हुआ था ।

2 . मनोहर पर्रिकर ने अपनी शिक्षा कहा प्राप्त की थी ?

मनोहर पर्रिकर ने अपने पाठशाला की शिक्षा मारगाव की स्कूल में पूरी की थी। इस पश्यात आई.आई.टी. बॉम्बे से इंजीनियरिंग एवं 1978 में ग्रेजुएशन की शिक्षा पूरी की थी ।

3 . मनोहर पारिकर की पत्नी का अवसान कब और क्यों हुवा था ?

मनोहर पर्रीकर की जीवन संगिनी मेधा का अवसान 2001 की साल में उनकी पत्नी का कैंसर रोग के कारन देहांत हो गया। 

4 . मनोहर पारिकर गोवा के c . m कितनी बार बने थे ? 

2000 से 2002 के समय तक, दूजा 2002 से 2005 समय तक तीसरी समय 2012 से 2014 एवं लास्ट और चौथे वक्त 2017 के मार्च माह की14 तारीख उनकी मृत्यु तक गोवा के c.m बने रहे थे।

5 . मनोहर पारिकर का देहांत कब और कितनी आयु में हो जाता है ?

manohar parikar age 63 साल की उम्र में 2019 मार्च की 17 तारिक को उनका देहांत हो जाता है। 

6 .गोवा के सीएम कौन थे ?

गोवा के सीएम श्री मनोहर पर्रिकर थे। मनोहर पारिकर करीबन चार बार गोवा के c .m के पद पर नियुक्त किये  गए थे। 

इसे भी पढ़े :- Babu Veer Kunwar Singh Biography In Hindi

निष्कर्ष – 

दोस्तों आशा करता हु आपको मेरा यह आर्टिकल Manohar Parrikar Biography In Hindi की जानकारी बहुत अच्छी तरह पसंद आयी होगी। इस लेख के जरिये  हमने manohar parrikar autobiography से सबंधीत  सम्पूर्ण जानकारी दे दी है अगर आपको इस तरह के अन्य व्यक्ति के जीवन परिचय के बारे में जानना चाहते है तो आप हमें कमेंट करके जरूर बता सकते है। और हमारे इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द ।

8 thoughts on “Manohar Parrikar Biography In Hindi – मनोहर पर्रिकर की जीवनी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Sorry Bro