Mamata Banerjee Biography In Hindi – ममता बनर्जी का जीवन परिचय

पश्चिम बंगाल की पहली महिला मुख्यमंत्री Mamata Banerjee Biography In Hindi में आपका स्वागत है। Cm के पद पर रहते हुए बहुत ही अच्छे और महत्व पूर्ण काम करने वाले ममता बनर्जी का जीवन परिचय बताने वाले है। 

नमस्कार मित्रो भारतीय राजनीति की बहुत प्रसिद्ध महिला ममता बनर्जी केंद्र में कैबिनेट मंत्री के पद पर भी काम किया है। उनके जीवन के संधर्ष की कहानी हम पेश कर रहे है। आज Mamata Banerjee Constituency 2021, Mamata Banerjee Party और Mamata Banerjee latest news की माहिती से ज्ञात करने वाले है। ममता बनर्जी का कार्यकाल बहुत ही लम्बा है। उसके काम भी बहुत ही लाजवाब है। वह अकेले ही चुनावो में जितके दिखाती है। 

कोलकाता में एक मध्यम वर्ग फेमिली में जन्मी एक लड़की ने कैसे मुख्यमंत्री का सफर तय किया है। वह भारत देश की संसद में बंगाल की युवा सांसद और केंद्रीय मंत्री रह चुकी है। Mamata Banerjee Speech बहुत ही मीठी है। वह अपने मीठी बोली और बेहतरीन काबिलियत से आज भी लोगो के दिलो में अपना सन्मान जारी रखा है। उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी प्रजा की सेवा में ही व्यतीत की हुई है। तो चलिए Mamata Banerjee Live Today की भी माहिती बताते है। 

Mamata Banerjee Biography In Hindi –

Full Name ममता बनर्जी
Nick name दीदी
Birth Date 5 जनवरी 1955
Birth Place कोलकाता, पश्चिम बंगाल, भारत
Mamata Banerjee Age 66 वर्ष 
Caste  ब्राह्मण
Religion       हिन्दू
Education देशबंधु सिशु शिक्षालय
Political Party ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस 
Political Party Sign   पंजा, जोरा घास फूल
Mamata Banerjee House कोलकाता, पश्चिम बंगाल, भारत
Marital Status अविवाहित
Net Worth   30 लाख रूपये (अंदाजित)
Profession   भारतीय राजनेता
Nationality  भारतीय

ममता बनर्जी का जन्म और शिक्षा –

5 जनवरी 1955 के दिन पश्चिम बंगाल के कलकत्ता शहर ममता बनर्जी का जन्म हुआ था। Mamata Banerjee Biography उनका जन्म एक माध्यम वर्ग के फेमिली में हुआ था। Mamata Banerjee Education की बात करे तो उन्होंने अपनी प्रायमरी शिक्षा कलकत्ता की देशबंधु सिशु विद्यालय से प्राप्त की है। बाद में जोगोमाया देवी कॉलेज कलकत्ता से कॉलेज का अभ्यास पूर्ण करके स्नातक की डिग्री प्राप्त की है। इस्लामी इतिहास में मास्टर की पदवी कलकत्ता विश्वविद्यालय से ली थी। बाद में बाद में ममता जी ने जोगेश चन्द्र चौधरी लॉ कॉलेज से वकालत की पदवी भी हासिल की हुई है। 

इसके बारेमे भी पढ़िए :- तमन्ना भाटिया का जीवन परिचय

ममता बनर्जी का परिवार –

Mamata Banerjee Family की जानकारी बताये तो Mamata Banerjee Father का नाम श्री प्रोमिलेश्वर बनर्जी है। वह जब नौ साल की उम्र के थे। तब उनके पिताजी की मौत हो चुकी थी। ममता बनर्जी की मां का नाम श्रीमती गायत्रीदेवी है। Mamata Banerjee Siblings की बात करे तो वह 6 भाईओ के बिच सिर्फ एक बहन है। उनके भाई के नाम समीर बनर्जी, अजीत बनर्जी, गणेश बनर्जी, काली बनर्जी, अमित बनर्जी और बबन बनर्जी है। Mamata Banerjee Husband Name की बात करे तो उन्होंने शादी नहीं की है। ममता बनर्जी की जाति ब्राह्मण और Mamata Banerjee Religion हिन्दू है। 

ममता बनर्जी का व्यक्तित्व – Mamata Banerjee Biography

सीधा-सादा जीवन व्यतीत करने वाले असाधारण व्यक्तित्व की महिला है। हमेशा सादा और सीधा जीवन जीने वाली महिला का परिवार माध्यम वर्गीय परिवार था। बस्ता, सूती साड़ी और हवाई चप्पल में दिखती है। उन्होंने अविवाहित रहके प्रजा कल्याण के कार्य किये है। वह एक साधारण दिखने वाली बहुत प्रभावशाली और विशाल व्यक्तित्व वाली महिला है। उन्हें एक साधारण जीवन व्यतीत करना अच्छा लगता है।  

ममता बनर्जी की पसंद और अन्य जानकारी –

  • Weight 59 – किलोग्राम
  • Eye Colour – हेज़ल ब्राउन
  • Hair Colour – साल्ट एवं पेपर
  • Zodiac Sign – मकर राशि
  • Hobbies  – पेंटिंग करना, टहलना
  • Favourite Pastime – संगीत सुनना, पढ़ना और लिखना बहुत पसंद है। 
  • Mamata Banerjee Height – 5 फुट, 4 इंच

इसके बारेमे भी पढ़िए :- ख़ुशी कपूर का जीवन परिचय

Mamata Banerjee Social Media –

Social Media Media Id  Media Followers 
Mamata Banerjee Twitter https://twitter.com/MamataOfficial 5.3M Followers
Email Id  Not Available  No
Instagram https://www.instagram.com/mam 92.9k Followers
Website Not Available  No
Mamata Banerjee Facebook https://www.facebook.com/Mamata 3691019 likes
Youtube  Not Available  No
Lnkedin  Not Available  No
Mamata Banerjee Whatsapp Number Not Available  No

Mamata Banerjee Instagram –

 
 
 
 
 
Instagram પર આ પોસ્ટ જુઓ
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Mamata Banerjee (@mamataofficial) દ્વારા શેર કરેલ એક પોસ્ટ

Mamata Banerjee Political Career –

अपनी क़ानूनी पढाई के वक्त पर ही होके छात्र परिषद यूनियन का गठन किया था। वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की एक शाखा है। अपनी शिक्षा पूर्ण करके ममता जी ने राजनीती में प्रवेश किया था। ममता बनर्जी का राजनीतिक करियर कांग्रेस पार्टी में शामिल हो करके किया था। 1976 से ले करके 1980 की साल तक वह पश्चिम बंगाल की महिला कांग्रेस की महासचिव के रूप में काम करते है।

\1984 की साल मे हुए पश्चिम बंगाल लोक सभा चुनाव में जादवपुर संसदीय क्षेत्र से बहुत प्रतिष्ठित राजनेता सोमनाथ चटर्जी हरा कर के जित हासिल की हुई है। जित हासिल करके वह सबसे कम उम्र की युवा संसद बने थे। लेकिन 1989 की साल में हुए लोकसभा चुनाव में ममता जी ने जादवपुर संसदीय क्षेत्र में हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन 1991 में ममता जी ने दक्षिण कोलकाता संसदीय क्षेत्र से चुनाव जित के फिर से सत्ता हासिल करदी थी।

उतनी नहीं तब से लेके 2009 की साल तक सत्ता में बानी रही थी। जब 1991 की साल में पी.वी. नरसिम्हा राव प्रधानमंत्री थे। उस समय में ममता जी ने पश्चिम बंगाल में बाल और महिला विकास मंत्रालय, युवा एवं खेल और मानव संसाधन विकास में कार्यरत रहते थे। उन्होंने खेल मंत्री के रूप में कसम करते हुए सरकार का विरोध भी किया था। क्योकि वह देश में खेल व्यवस्था को सुधारना चाहती थी। 

ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस पार्टी की स्थापना –

  • अपने विचार दूसरे नेताओ से नहीं मिलने के कारन 1997 में ममता जी ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से अलग होने का फैसला करलिया था।
  • बाद में ममता बनर्जी की पार्टी का नाम ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस पार्टी की स्थापना की थी। 
  • 1999 की साल में एनडीए में शामिल हुए थे। और प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में उन्हें रेलवे मंत्री का पद दिया गया था।
  • जब उन्होंने 2002 में बजट निकाला तब पश्चिम बंगाल को बहुत लाभ दिया था। 
  • 2009 में हुए आम चुनावो में उन्होंने यूनाइटेड प्रोग्रेसिव अलायन्स में शामिल होने का फैसला ले लिया था। और फिर से वह रेलवे मंत्री बने थे। 
  •  2010 की साल में पश्चिम बंगाल के नगर पालिका चुनाव में ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस पार्टी ने जित हासिल करली थी।
  • ममता बनर्जी कोलकाता नगर पालिका में 62 सीट से जित दर्ज करके सत्ता पे आयी थी। 

Mamata Banerjee As a Chief Minister-

2011 की साल में हुए विधानसभा चुनावो में ममता जी की पार्टी ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस पार्टी ने भारत की कम्युनिस्ट पार्टी की शाशन को ख़त्म कर दिया था। वह पार्टी 34 साल से सत्ता संभल रही थी। ममता जी ने उन्हें भी उखड फेका था। वह जित से ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की आठवीं और प्रथम महिला मुख्य मंत्री बने थे। वर्ष 2012 में ममता जी ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी को पूरी तरह से छोड़ दिया था।

मुख्यमंत्री के पद पर रह करके। उन्होंने ऐसे महत्व पूर्ण कार्य किये की सभी लोग Mamata Banerjee Real Name की बजाय दीदी के नाम से जानने लगे है। उनके काम उतने अच्छे है। की 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में उन्होंने फिरसे जित दर्ज करवाई और पश्चिम बंगाल राज्य की मुख्यमंत्री फिर से बनचुकी और आज तक बने रहे है। हम आशा करते है। की वर्तमान समय में चल रहे विधानसभा चुनाव में भी ममता बनर्जी को जित मिले और तीसरी वक्त ममता बनर्जी जी मुख्यमंत्री के रूप में बने ऐसी भगवान को प्राथना करते है। 

इसके बारेमे भी पढ़िए :- संजू सैमसन का जीवन परिचय

ममता बनर्जी जी के विवाद –

  • 1998 की साल में ममता जी ने महिलाओं के आरक्षण बिल के सामने विरोध किया था। 
  • उसमे एमपी डोगरा प्रसाद को कोलर पकड़कर घसीटते हुए निकाल दिया था। उसमे वह बहुत विवाद में रहे थे। 
  • देश में बढ़ते अपराध पर एक टिप्पणी की थी। उसके लिए ममता जी की काफी आलोचना हुई थी। 
  • ममता बनर्जी 2012 में ममता बनर्जी ने कहा था। की पहले लड़के लड़की साथ में हाथ पकड़ कर घूमते थे।
  • उस समय उनके मा-बाप से पकड़े जाते थे। उनकी फटकार लगाई जाती थी। लेकिन अब सबकुछ खुलेआम होता है।  उस टिप्पणी के लिए उनकी काफी आलोचना हुई थी। 
  • 2016 की साल में ममता सरकार ने 25 मुस्लिम फेमिली की दुर्गा पूजा को आपत्ति जताने की वजह से दुर्गा पूजा पर रोक लगा दी थी। 
  • उन्होंने कहा था की दुर्गा पूजा मुस्लिमों के मुहर्रम त्यौहार में उनकी भावनाओं को ठेस पहुंचाती हैं। 
  • रेनबो का बंगाली मतलब राम का धनुष होता है। लेकिन 2017 में रामधोनु शब्द को रोंगधोनु कहने के कारन भारत के कट्टरपंथियों के साथ विवाद रहा था। 
  • वर्तमान समय में हो रहे आम चुनाव में ममता बनर्जी के कार्यकाल में भारत के फ़ेडरल सिस्टम को चुनौती दी है।
  • सारदा ग्रुप फाइनेंसियल में घोटाले की जाँच करने सीबीआई अधिकारीयों को गिरफ्तारी का हुक्म दिया।

ममता बनर्जी की पुस्तक –

बंगाली अंग्रेजी
तृणमूल
उपलब्धि
जनमायनी
मां-माटी-मानुष
अशुबो शंकेत
जनतार दरबरे
जागो बांग्ला
मानविक
गणोतंत्र लज्जा
गणोतंत्र लज्जा
मातृभूमि
एंडोलानेर कथा
अनुभूति
स्लॉटर ऑफ डेमोक्रेसी
स्ट्रगल ऑफ एक्सिसटेंस
डार्क हॉरिजोन
स्माइल 

ममता बनर्जी का राजनीतिक जीवन के घटनाक्रम –

  • Mamata Banerjee Biography
  • 1976 से 1980 तक पश्चिम बंगाल की महासचिव
  • 1978 से 1981 तक कलकत्ता दक्षिण की जिला कमेटी सचिव
  • 1984 में लोकसभा की सदस्य बनी 
  • 1985 से 1987 तक अनुसूचित एव अनुसूचित जनजातियों की कल्याण समिति की सदस्य
  • 1987 से 1988  मानव संसाधन विकास मंत्रालय की परामर्श समिति एव सलाहकार
  • 1988 में कांग्रेस संसदीय सदस्य
  • 1989 में राज्य की प्रदेश कांग्रेस कमेटी सदस्य
  • 1990 में पश्चिम बंगाल की युवा कांग्रेस अध्यक्षा
  • 1991 से 1993 युवा और खेल विभाग की राज्य मंत्री
  • 1993 से 1996 गृह मामलों की सदस्य
  • 1995 से 1996 गृह मंत्रालय की सलाहकार
  • 199 लोकसभा की सदस्य
  • 1996 से 1997 गृह मंत्रालय की सदस्य
  • 1997 अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस की स्थापना
  • 1998 12वीं लोक सभा की सदस्य 
  • 1998 से 1999 रेलवे समिति की अध्यक्षा
  • 1999 से 13वीं लोकसभा की सदस्य 
  • 13 अक्टूबर 1999 से 16 मार्च 2001 तक रेलवे मंत्री
  • 2001 से 2003 तक उद्योग मंत्रालय की सलाहकार
  • 8 सितंबर 2003 से 8 जनवरी 2004 तक केंद्रीय कैबिनेट मंत्री
  • 9 जनवरी 2004 से मई 2004 कोयला और खानों की मंत्री
  • 2004: 14वीं लोकसभा की सदस्य 
  • 2009 15 वीं लोकसभा की सदस्य
  • 31 मई 2009 से जुलाई 2011 रेलवे मंत्री
  • 9 अक्टूबर 2011 15वीं लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा
  • 20 मई 2011 पहली महिला मुख्यमंत्री 
  • 19 मई 2016 दूसरी बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री 

इसके बारेमे भी पढ़िए :- पायल घोष का जीवन परिचय

Mamata Banerjee Biography Video –

Mamata Banerjee Interesting Facts –

  • ममता जी का जीवन संघर्ष से भरा रहा है इन्होने बहुत संघर्ष है तब उन्हें मुकाम हासिल हुआ है।
  • ममता जी थोड़े गुस्से वाली राजनेता है।
  • केंद्र सरकार की नीति नियम ममता जी को पसंद नहीं है।
  • केंद्र सरकार की बुराई ममता जी कई वक्त कर चुकी है। 
  • बंगाली लोग उन्हें दीदी के प्यारे नाम से पुकारते है। 
  • नरेंद्र मोदी को ममता चुनावो में हरायेंगी यह उनका कहना है ।
  • ममता जी ने बहुत ही अच्छे अच्छे और सामाजिक कार्य भी करती है।
  • भारत के अलावा बांग्लादेश में भी ममता जी को पसंद किया जाता है।
  • पच्चिम बंगाल की राजनीति में वह काफी लम्बे वक्त तक रहने वाली है।

ममता बनर्जी के प्रश्न – 

1 .ममता बनर्जी की उम्र कितनी है ?

वर्तमान समय 2021 की साल में ममता बनर्जी की उम्र 66 वर्ष है। 

2 .Mamata Banerjee ke papa ka naam ?

Mamata Banerjee ke papa ka naam Mr. Promileshwar Banerjee He 

3 .Will Mamata win next election ?

Yes  Mamta will be the winner in the next election

4 .कब ममता बनर्जी ने गौ मांस खाने का समर्थन किया था ?

नहीं ममता बनर्जी ने गौ मांस खाने का समर्थन नहीं किया है। 

5 .ममता बनर्जी की टीम में गृह मंत्री कौन है ?

ममता बनर्जी काफी समय के लिए गृह मंत्री रह चुकी है। 

6 .Kya mamta banerjee hindu hai ?

Ha Mamta Banerjee Hindu hai

7 .ममता बनर्जी कितने साल से मुख्यमंत्री है ?

10 साल से 

8 .ममता बनर्जी के कितने बच्चे हैं ?

अविवाहित 

इसके बारेमे भी पढ़िए :- सूबेदार जोगिंदर सिंह की जीवनी

Conclusion –

आपको मेरा Mamata Banerjee Biography बहुत अच्छी तरह से समज आया होगा। 

लेख के जरिये Mamata Banerjee House और Mamata Banerjee Election 2021 से सबंधीत  सम्पूर्ण जानकारी दी है।

अगर आपको अन्य व्यक्ति के जीवन परिचय के बारे में जानना चाहते है। तो कमेंट करके जरूर बता सकते है।

हमारे आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शयेर जरूर करे। जय हिन्द।

Note – आपके पास ममता बनर्जी बायोग्राफी या Mamata Banerjee Personal Assistant की कोई जानकारी हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे धन्यवाद 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Sorry Bro